सफर

सफर के दौरान लौटाया खोया मोबाइल

ब्रम्हमूर्त की बस अलार्म बजा तो देखा चार बज रहे हैं। सारे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जो रात में सोने से पहले चार्जिंग पर लगाए थे वो अब फुल चार्ज हो गए हैं। लंबे सफर में उपकरण चार्ज रहने बहुत जरूरी हैं अन्यथा बहुत तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। पांच बजे की बस …

सफर के दौरान लौटाया खोया मोबाइल Read More »

कैमरे वाला बैग जब छूटा रेस्त्रां में

निकलने की तैयारी खाना पीना करने के बाद निकलने की बारी है। उत्तरकाशी ज्यादा दूर भी नहीं है और साधन भी बहुत से मिल जाते हैं इसलिए भी इत्मीनान से सारे काम कर रहा हूँ। खाने में वैसे तो एक ही पराठा ऑर्डर किया था। मगर पराठा इतना लज़ीज़ था एक और चट कर गया। …

कैमरे वाला बैग जब छूटा रेस्त्रां में Read More »

ग्लास हाउस में गुज़ारी रात

बस पकड़ने की फ़िक्र सुबह के चार बजे का अलार्म बजा और तड़के ही नींद खुल गई। रात में हुए वाक्ए के बाद अब लग रहा है जितनी जल्दी हो सके भागो यहाँ से। पता नहीं लवली भाई के मुख से सुने किस्से के बाद कैसे नींद आ गई। पर आधी रात में ऐसा किसी …

ग्लास हाउस में गुज़ारी रात Read More »

विश्वप्रसिद्ध नाको झील

भगदड़ वाली सुबह रात तो मानो चुटकी बजाते बीत गई। पर सोते समय दिमाग में ये बैठा लिया था अगर समय से नहीं उठा तो बस छूटने का खतरा ज्यादा होगा। समय रहते आंख खुल गई है पर उठने का मन नहीं हो रहा है। पर घुमक्कड़ी का ये उसूल है। या तो आराम कर …

विश्वप्रसिद्ध नाको झील Read More »

बस अड्डे में किया कब्ज़ा

जल्दी उठने से तौबा आंख खुली मगर उठने का मन नहीं हो रहा है। अजय ने भी उठाने की कोशिश की पर मैंने उठने से इंकार कर दिया। कल रात में जो तय हुआ वो पूरा ना हो सका। सुबह जल्दी उठना, सूर्योदय(सनराइज) देखना। आखिरकार छह बजे आंख खुली। देखा तो टेंट में बैग और …

बस अड्डे में किया कब्ज़ा Read More »

चंडीगढ़ से मनाली तक का जोखिम भरा सफर

जम्मू से अम्बाला शालीमार एक्सप्रेस से सुबह के पांच बजे मैं अंबाला पहुंचा। यहाँ से ये तय किया कि चंडीगढ़ से दिन की बस में बैठ कर मनाली निकल जाऊंगा। ट्रेन से उतरा तो स्टेशन पर काफी भीड़ देखने को मिली। बैग लेके इधर उधर दुसलखाने की खोज करने लगा। काफी देर और दूर तक …

चंडीगढ़ से मनाली तक का जोखिम भरा सफर Read More »

जम्मू से कश्मीर जाने की जिद्द

कटरा से जम्मू आगमन डोलती हुई बस से रात्रि के तीन बजे तक कटरा से जम्मू आ पहुंचा। बस में कब झपकी लग गई पता ही नहीं चला। दुविधा ये है कि मुझे जाना है कश्मीर। लेकिन वहाँ बदहाली के कारण सब अचानक बंद पड़ गया। ज़ाकिर मूसा के मारे जाने के बाद पूरा जम्मू …

जम्मू से कश्मीर जाने की जिद्द Read More »