मनाली

मनाली के बुद्ध मंदिर में जाना आखिर क्यों घुमाते हैं चक्र?

होटल की सुबह कल के मुकाबले आज आंख जल्दी खुल गई। लेकिन सुध नहीं है करना क्या है? खिड़की पर नजर पड़ी तो देखा। कमरे के बाहर से खिली खिली धूप की किरणे खिड़कियों से आर पार होते हुए अन्दर आ रही हैं। यही किरणे जब चेहरे पर पड़ी तो फिर नींद ना आई दोबारा।  …

मनाली के बुद्ध मंदिर में जाना आखिर क्यों घुमाते हैं चक्र? Read More »

मनाली में मिली जमकर भीड़

उठते ही दिखा अद्भुत दृश्य कड़ाके की शरीर गला देने वाली ठंड में सुबह चार बजे सोया था। इतनी गहरी निद्रा जिसका कोई जवाब नहीं। सारे मोबाइल, कैमरे, सेल सब चार्जिंग पर लगा कर है सोया था। ताकि जब उठुं तो खाली फोन लेके ना निकलना पड़े। धकापेल नींद से भी नाटकीय ढंग से जगा। …

मनाली में मिली जमकर भीड़ Read More »

चंडीगढ़ से मनाली तक का जोखिम भरा सफर

जम्मू से अम्बाला शालीमार एक्सप्रेस से सुबह के पांच बजे मैं अंबाला पहुंचा। यहाँ से ये तय किया कि चंडीगढ़ से दिन की बस में बैठ कर मनाली निकल जाऊंगा। ट्रेन से उतरा तो स्टेशन पर काफी भीड़ देखने को मिली। बैग लेके इधर उधर दुसलखाने की खोज करने लगा। काफी देर और दूर तक …

चंडीगढ़ से मनाली तक का जोखिम भरा सफर Read More »