विश्व की सबसे बड़ी इस्पात(स्टील) मूर्ति अदियोगी
कोयंबटूर | तमिलनाडु | भारत

विश्व की सबसे बड़ी इस्पात(स्टील) मूर्ति अदियोगी

पूसरीपल्यम से पूलुवापट्टी कल स्टेशन दर स्टेशन घनचक्कर होने के बाद दिन में लंबी नींद से काफी हद तक आराम मिला। आज सुबह कोयंबटूर में ही दूसरे सामुदायिक मित्र के घर निकल रहा हूँ। यहाँ नमन के घर पर तैयार हो कर बैग को भी तैयार कर कमर कस ली है। कल शाम को मौका…

कोयंबटूर पहुंचने में हुई भारी चूक
कोयंबटूर | तमिलनाडु | भारत

कोयंबटूर पहुंचने में हुई भारी चूक

हुआ एहसास ट्रेन में नींद खुली। घड़ी देखी तो समय सुबह के साढ़े पांच बज रहे हैं। दो चार घंटे की नींद ही सफर के दौरान पर्याप्त मानने लगा हूँ मैं। रात्रि के एक बजे ट्रेन का आना हुआ था। जिस कारण भागम भाग में जहाँ जगह मिली वहां बैठ गया। खुसकिस्मती से सबसे ऊपर…

कुछ यूं पड़ा कन्याकुमारी नाम
कन्याकुमारी | तमिलनाडु | भारत

कुछ यूं पड़ा कन्याकुमारी नाम

कन्याकुमारी में सूर्योदय देखने की तमन्ना कल यही योजना बनाकर सोया था की सुबह उठकर तट पर सूर्योदय से पहले पहुंचकर सूर्योदय देखूंगा। मैं तो बाद में उठा साथी घुमक्कड़ समय रहते निकल गया। लेटे लेटे विचार कर रहा हूँ जाऊं या ना जाऊं। एकाएक उठा और अपना बिस्तर ताहा कर बैग में रख लिया।…

त्रिवेणी संगम कन्याकुमारी
कन्याकुमारी | तमिलनाडु | भारत

त्रिवेणी संगम कन्याकुमारी

रामेश्वरम से उथलपुथल कहते हैं कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भारत एक है। कश्मीर भारत माता का सर है तो कन्याकुमारी चरण। उसी कन्याकुमारी के लिए रामेश्वरम से रात दस बजे की ट्रेन से निकल पड़ा। ट्रेन अपने निर्धारित समय से डेढ़ घंटा देरी के कारण रात्रि के ढाई बजे तक मदुरई पहुंची। मदुरई एक…

भारत का आखिरी अंश धनुषकोडी
तमिलनाडु | धनुषकोडी | भारत

भारत का आखिरी अंश धनुषकोडी

रामेश्वरम से रवानगी रामेश्वरम से ठीक दो बजे धनुषकोडी के लिए निकल लिया। उसी स्थान पर आ खड़ा हुआ जहां सुबह स्टेशन से उतरा था। इंतजार करने लगा यहीं अड्डे पर। मेरी तरह और भी जने हैं जो इंतजार में है बस के। पीछे बैठी एक बूढ़ी काकी अपने बेटे के साथ चाय पर गप…

भारत के अंतिम छोर पर रामेश्वरम ज्योतिलिंग
चारधाम | ज्योतिर्लिंग | तमिलनाडु | धार्मिक स्थल | भारत | रामेश्वरम

भारत के अंतिम छोर पर रामेश्वरम ज्योतिलिंग

करईकुडी से रामेश्वरम रात के दो बजे की ट्रेन छोड़ने का कारण था भयंकर नींद का आना। आंख खुली जरूर थी पर अन्नामलाई को देख कर दोबारा सो गया सुबह का अलार्म लगा कर। सुबह तड़के उठ समान बांध कर निकलने लगा। मुझे उम्मीद नहीं थी की अन्नामलाई मुझे स्टेशन तक छोड़ने आएंगे। पर सुबह…

छोटे करईकुडी में अनेक विरासत
करईकुडी | तमिलनाडु | भारत

छोटे करईकुडी में अनेक विरासत

तैयारी नए सफर की कल रात का मदुरई से करईकुड़ी तक के सफर में ज्यादा थक गया हूँ बजाय त्रिचिपल्ली से मदुरई आने में। अगर अन्नामलाई मुझे पहले इक्कतला कर देते तो मैं पहले इन्ही के पास आ जाता बाद में मदुर्वी जाता। इस तरह आराम से दिन में मीनाक्षी अम्मन के दर्शन हो पाते।…

मदुरई का मीनाक्षी अम्मन मंदिर
तमिलनाडु | भारत | मदुरई

मदुरई का मीनाक्षी अम्मन मंदिर

त्रिचिपल्ली से मदुरई मेरी यह घोर अभिलाषा है कि त्रिचिपल्ली में हाजिर होने के बाद तिरूचीपल्ली के मंदिरों में अवश्य जाऊ। सुबह जल्दी उठ गया हूँ पर बहुत जल्दी नहीं। गणेश ने बताया की यहाँ कृष्णापुरम मुसीरी से पहली बस सुबह आठ बजे और दूसरी बस सुबह साढ़े दस बजे निकलती है। पहली बस तो…

पशु पक्षियों के बीच व्यतीत किया समय
तमिलनाडु | भारत | मुसिरि

पशु पक्षियों के बीच व्यतीत किया समय

कल रात थंजावुर से त्रिचिपल्ली आ पहुंचा था। जिसके बाद बस के द्वारा सफर करके मुसिरी गांव में डेरा डाला है सामुदायिक मित्र के घर। पिछली रात तिरुचिपल्ली से मुसीरी कृष्णापुरम आया था। यहां आधी रात को लेने खुद नवीन अपने वाहन से आए थे। नवीन कृष्णन सामुदायिक मित्र है जिनका तिरुचिपल्लि के मूसिरी गांव…

दुनिया का सबसे ऊँचा मंदिर बृहदेश्वरा
तंजावुर | तमिलनाडु | भारत

दुनिया का सबसे ऊँचा मंदिर बृहदेश्वरा

थंजावुर रवानगी मुझे थंजावुर के लिए और प्रेम भाई को दिल्ली के लिए रवाना होना है। अंतर बस इतना है मुझे सुबह निकल जाना है और उन्हें शाम तक। प्रेम भाई ने अपनी मेहमानवाजी से कानपुरिया का दिल जीत लिया। उनकी उपस्थिति में निकलना उचित रहेगा क्यों की उन्हें दिल्ली निकलने की तैयारियां जो करनी…