विश्व का एकमात्र डबल डेकर रूट ब्रिज
नॉनग्रियाट | भारत | मेघालय

विश्व का एकमात्र डबल डेकर रूट ब्रिज

टायरना संध्या होने को आई है। घड़ी में पांच बज चुके हैं। और ठीक पांच बजे के बाद यहाँ प्रवेश बंद हो जाता है। पास में बने काउंटर से गाड़ी पार्किंग की पर्ची कटाई। समस्या हेलमेट की आ रही है। सो वो भी रखवा दिया किसी तरह बात चीत करके इन्हीं की दुकान में। यही…

पृथ्वी का सबसे बरसाती शहर
मेघालय | चेरापुंजी | भारत

पृथ्वी का सबसे बरसाती शहर

भारत बांग्लादेश सीमा भारत बांग्लादेश सीमा तक जा कर कुछ देर बीता कर ही अच्छा लगा। वापस जाने लगा तो सीमा पार से सैलानी भी आते दिखे। जो भारतीय चेकपोस्ट पर अपने कागज दिखा कर भारत की सीमा में दाखिल हो रहे हैं। कुछ लोगों का मानना है कि बांग्लादेश से अभी भी घुसबैठ हो…

एशिया का सबसे स्वच्छ गाँव मावलेनोंग
डावकी | भारत | मेघालय

एशिया का सबसे स्वच्छ गाँव मावलेनोंग

डारंग में सुबह आज एशिया के सबसे साफ गांव जाने का विचार है जिसका नाम है मावलेनोंग। ये गांव लगातार एशिया के सबसे स्वच्छ गांव की श्रेणी में शुमार ही रहा है। सुबह के साढ़े छह बज रहे हैं। रात के अंधेरे में तो सिर्फ नदी का शोर ही सुनाई पड़ रहा था पर अभी…

मेघालय सड़क दुर्घटना में बाल बाल बचा
भारत | डारंग | मेघालय

मेघालय सड़क दुर्घटना में बाल बाल बचा

एलिफेंटा से डावकी गांव एलिफेंटा झरना मेहेज घंटे भर के अंदर ही भ्रमण हो गया। खास है तो सिर्फ वो झरना जो भारत के किसी और कोने में ना मिले। वापसी में जिस दुकान में बैग रखे हुए थे वहीं से थोड़ा नाश्ता करना बेहतर लगा। नाश्ता भी इसलिए ही किया क्योंकि दुकानदार ने हमारा…

एलीफैंटा झरना या थ्री स्टेप वॉटरफॉल?
अपर शिलॉन्ग | भारत | मेघालय

एलीफैंटा झरना या थ्री स्टेप वॉटरफॉल?

अच्छी नींद आंख रितेश जी की हवेली में खुली। ये हवेली ही उनका किराए का घर है। वैसे तो उनका खुद का भी घर बाल बच्चे सब हैं पर किसी दूसरी दुनिया में। आज शिलोंग से दरांग गांव की ओर रवाना होना है। देर रात तक गप्पे लड़ाने के बाद रितेश भाई किसी की मदद…

ना मिला पूर्वोत्तर भारत के स्कॉटलैंड में खाली होटल
शिलॉन्ग | भारत | मेघालय

ना मिला पूर्वोत्तर भारत के स्कॉटलैंड में खाली होटल

असम के हालात सामान्य कामाख्या देवी मंदिर के दर्शन के बाद अब समय से शिलोंग पहुंचना भी ज़रूरी है। घुमक्कड़ी समुदाय के किसी भी सदस्य ने दरख्वास्त नहीं स्वीकारी है। अंधेरा होने से पहले पहुंच कर होटल ढूंढने की भी चुनौती रहेगी। इसलिए टूरिस्ट इंफॉर्मेशन सेंटर से जानकारी एकत्रित करने के बाद सीधा बस अड्डे…