सफर सुरम्य समुद्र तटों वाले विशाखापत्तनम में
छत्तीसगढ़ | जगदलपुर | भारत दर्शन

सफर सुरम्य समुद्र तटों वाले विशाखापत्तनम में

सुस्त चालक गाड़ी चली तो सही लेकिन बैलगाड़ी की रफ्तार से! ड्राइवर साहब इतनी धीमी रफ्तार से गाड़ी चला रहे हैं कि मुझे उन्हें कदम कदम पर टोकना पड़ रहा है। कई कई जगह वाहन रोक कर वो खुद चल कर सवारी पकड़ पकड़ कर बैठा रहे हैं। मुझे दुकानदार ने सचेत कर दिया था…

सफर नक्सली प्रभावित क्षेत्र में
छत्तीसगढ़ | जगदलपुर | भारत दर्शन

सफर नक्सली प्रभावित क्षेत्र में

कल की खबर दुपहिया वाहन होने के कारण पुरी ओर कोणार्क एक ही दिन सम्पूर्ण हो गया। पिछली रात प्रशांत जी के आमंत्रण पर साथ में रात्रि भोज किया। पुरी से भुवनेश्वर वापस लौटते वक़्त इतनी मूसलाधार वर्षा हो रही थी कि वाहन किनारे लगा कर एक बंद दुकान की टीन की छत्र में काफी…